(1 ) उच्चतम न्यायालय द्वारा "भीखाजी बनाम म० प्र० स्टेट , 1955 एस० सी० 781 के वाद में आच्छादन का सिद्धांत ( doctrine of eclipse) प्रतिपादित किया गया।

(2 ) अनुच्छेद 21 में प्राण एवं दैहिक स्वतंत्रता का अधिकार दिया गया है।

(3 ) मेनका गांधी बनाम भारत संघ 1978 एस० सी० 597 के वाद में विदेश भ्रमन के अधिकार को मूल अधिकार अभिनिर्धारित किया गया।

(4 ) अनुच्छेद32 "संवैधानिक उपचारों का अधिकार" प्रदान करता है।

(5 ) के० टी० शाह ने कहा है " राज्य के नीति निदेशक सिद्धान्त एक ऐसा चेक है बैंक के सुविधानुसार अदा किया जाता है।।

.